Sunday , November 17 2019

शिक्षा को समाज कल्याण से जोड़ने की जरूरत- डा. (श्रीमती) भारती गाँधी

लखनऊ, 13 अक्टूबर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर आॅडिटोरियम में आयोजित विश्व एकता सत्संग में बोलते हुए बहाई धर्मानुयायी, प्रख्यात शिक्षाविद् व सी.एम.एस. संस्थापिका-निदेशिका डा. (श्रीमती) भारती गाँधी ने कहा कि शिक्षा को समाज कल्याण से जोड़ने की आज महती आवश्यकता है। शिक्षा केवल किताबी ज्ञान तक ही सीमित नहीं है, अपितु इसका उपयोगा समाज कल्याण के लिए करना चाहिए, जिससे सामाजिक बुराईयों व समस्याओं का समाधान निकाला जा सके। आज प्रदूषित पर्यावरण गंभीर चिन्ता का विषय है। दीपावली जैसे त्योहारों पर हम समाज को स्वच्छ पर्यावरण का संदेश देकर जन-जागरण किया जा सकता है। डा. गांधी ने कहा कि हमारी संस्कृति अनेकता में एकता की है। हमें सभी त्योहार मिलजुलकर एवं भाईचारे की भावना के साथ मनाने चाहिए। इससे पहले, सी.एम.एस. शिक्षकों द्वारा प्रस्तुत सुमधुर भजनों से विश्व एकता सत्संग का शुभारम्भ हुआ, जिन्होंने बहुत ही सुमधुर भजन सुनाकर सम्पूर्ण वातावरण को आध्यात्मिक उल्लास से सराबोर कर दिया।

इस अवसर पर अपने विचार रखते हुए सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने कहा कि विश्व समुदाय आज अनेकों वैश्विक समस्याओं जैसे पर्यावरण की समस्या, पानी की समस्या, अशिक्षा, गरीबी, आतंकवाद आदि से जूझ रहा है, जिसका समाधान किसी एक देश के द्वारा संभव नहीं है। ऐसे में, सभी को मिलजुलकर, एकता, शान्ति व सहयोग के साथ वैश्विक समस्याओं के समाधान खोजने होंगे। इस अवसर पर विभिन्न धर्मावलम्बियों व विद्वजनों ने भी अपने सारगर्भित विचार व्यक्त किये।

विश्व एकता सत्संग में आज सी.एम.एस. अलीगंज (द्वितीय कैम्पस) के छात्रों ने रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों की इन्द्रधनुषी छटा प्रदर्शित कर उपस्थित सत्संग प्रेमियों को गद्गद कर दिया। जहाँ एक ओर छात्रों ने प्रार्थना, गीतों, भजनों द्वारा आध्यात्मिक उल्लास प्रवाहित किया तो वहीं दूसरी ओर लघु नाटिका व नुक्कड़ नाटक के माध्यम से ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं’ का संदेश दिया। सी.एम.एस. छात्रों ने इस अवसर पर पटाखा रहित दीपावली मनाने की अपील भी की। सत्संग का समापन संयोजिका श्रीमती वंदना गौड़ द्वारा धन्यवाद ज्ञापन से हुआ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com