Friday , September 20 2019

अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर में प्रतिभाग हेतुअमेरिका जायेगा सी.एम.एस. छात्र दल

लखनऊ, 4 जून। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अलीगंज (प्रथम कैम्पस) का पाँच सदस्यीय छात्र दल ‘‘चिल्ड्रेन्स इण्टरनेशनल समर विलेज कैम्प (सी.आई.एस.वी.)’’ में प्रतिभाग हेतु अमेरिका रवाना हो रहा है। इस दल में चार छात्र व एक शिक्षिका शामिल है। सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर में प्रतिभाग करने वाले छात्रों में श्रेय शुक्ला, संस्कृति चन्देल, आसिफा अंसारी एवं प्रणव सिंह शामिल हैं जबकि छात्र दल का नेतृत्व विद्यालय की शिक्षिका श्रीमती मेधा ठाकुर करेंगी। श्री शर्मा ने बताया कि इंग्लैण्ड की चिल्ड्रेन्स इण्टरनेशनल समर विलेज संस्था (सी.आई.एस.वी.) के तत्वावधान में आयोजित इस अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर में प्रतिभाग हेतु विभिन्न देशों से 11 से 12 वर्ष की उम्र के चार-चार बच्चों के बाल दल अपने शिक्षकों के नेतृत्व में अमेरिका पहुँच रहे हैं। इसके अलावा 15 से 17 वर्ष की उम्र के जूनियर काउन्सलर भी इस अन्तर्राष्ट्रीय शिविर में अपनी भागीदारी दर्ज करायेंगे जो कि वयस्क प्रतिभागियों व बाल प्रतिभागियों के बीच मध्यस्थ की भूमिका निभायेंगे एवं शिविर की सुव्यवस्था बनाये रखने में योगदान देंगे। एक माह अवधि का यह अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर अमेरिका के अटलांटा शहर में आयोजित किया जा रहा है, जिसमें प्रतिभाग करने वाले विभिन्न देशों के बाल दल विश्व एकता व विश्व शान्ति को बढ़ावा देने वाली अनेकानेक गतिविधियों में सम्मिलित होंगे।

श्री शर्मा ने बताया कि अमेरिका के इस अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर में प्रतिभाग करने का प्रमुख उद्देश्य छात्रों की सोच को विस्तृत एवं विश्वव्यापी बनाना है जिससे उनमें अन्य देशों के छात्रों के साथ साँस्कृतिक, अर्न्तसांस्कृतिक एवं अन्तर्राष्ट्रीय समझ विकसित हो। सी.आई.एस.वी. कैम्प के 30 दिवसीय प्रवास के दौरान प्रतिभागी छात्र विभिन्न देशों की संस्कृति व सभ्यता को और बेहतर तरीके से समझ पाते हैं एवं उनमें एकता व मैत्री भावना का संचार होता है। श्री शर्मा ने आगे बताया कि बताया कि अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर के प्रतिभागी छात्रों को ठहरने, खाने-पीने, खेल-कूद, ऐतिहासिक स्थलों के भ्रमण, चिकित्सा आदि की सारी सुविधायें उपलब्ध करायी जायेगी। इसके अलावा देश-विदेश के बच्चे अमेरिका के मेजबान परिवारों में दो दिन रहकर वहां के रहन-सहन, खान-पान, रीति-रिवाज आदि का नजदीक से ज्ञान प्राप्त करेंगे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com