Tuesday , July 16 2019

5 मिनट फेस योगा आजमाएं, कुदरती निखार पायें!

प्रयागराज कुंभ पहुंचीं मानसी गुलाटी, बताया सेहत का राज

कुम्भ नगरी (प्रयागराज)। पांच मिनट फेस योगा करने से दिमाग व शरीर को पूरी तरह से कंट्रोल किया जा सकता है। यही नहीं मधुमेह और ब्लॅड प्रेशर जैसे तेजी से बढ़ते रोगों को नियमित रूप से अपने लिए खर्च किए गए, इस एक मिनट से पूूर्णतः नियंत्रित किया जा सकता है। मिस इंडिया रहीं मानसी गुलाटी ने शनिवार को उक्त बातें कही। वह यहां पांच फरवरी तक प्रयागराज कुंभ के विभिन्न शिविरों में स्वस्थ्य रहने की यह विधि सिखाने आ पहुंची हैं। गुलाटी ने बताया कि रोजमर्रा की जिन्दगी में मनुष्य को तनाव का सामना करना पड़ रहा है। उसके पास योग करने के लिए ज्यादा समय भी नहीं है। ऐसे में वह डॉयबिटीज, ब्लॅड प्रेशर, थॉयरायड व मोटापे से खासा परेशान है।

योग गुरु रामदेव के योगासन करने के लिए लोगों के पास समय नहीं होता है। ऐसे में लोग उनके फेस योगा को आजमा सकते हैं और महज पांच मिनट योगा कर अपनी तमाम बिमारियों को गुडबॉय कर सकते हैं। यही नहीं उनका वजन भी पूरी तरह से कंट्रोल किया जा सकता है और वह अपनी उम्र को 10 वर्ष कम करने में भी सक्षम नजर आएंगे। उन्होंने कहा कि सुंदर दिखने की होड़ में अमूमन लोग कॉस्मेटिक्स और सर्जरी पर वेवजह लाखों रुपए खर्च करते हैं। फेस योगा कर इन सारी समस्याओं से लोग निजात पा सकेंगे। उन्होंने बताया कि कुम्भ नगरी में उनके योग शिविरों के संयोजक डाॅ. सीपी गुप्ता है।

3 से 5 फरवरी तक  इन शिविरों में मानसी सिखाएंगी योग

डाॅ.सीपी गुप्ता ने बताया कि 3  से 5 फरवरी तक प्रयागराज कुंभ के विभिन्न शिविरों में मानसी गुलाटी श्रद्धालुओं को निःशुल्क योग सिखाएंगी। इनमें मुख्य रुप से भक्ति वेदान्त नगर काशी, जगन्नाथ धाम ट्रस्ट, दिव्य प्रेम सेवा मिशन, किन्नर अखाड़ा, सद्गुरु रणक्षोर नगर आदि शामिल हैं। इंटरनेशनल योग गुरु मिस गुलाटी ने बताया कि वह चार वर्ष की उम्र से योग कर रही हैं। उनकी इस सफलता के प्रेरणास्रोत वह अपने नाना सत्यपाल को बताती हैं। उनको मिस इण्डिया बनाने में भी इस योगा का विशेष योगदान बताती हैं। कहती हैं कि उन्हें किसी भी प्रकार के कॉस्मेटिक्स का प्रयोग ही नहीं करना पड़ा।

गुलाटी ने बताया कि करीब 19 वर्ष से योग करते हुए अब तक वह कई देशों में भी जा चुकी हैं। यूएस में वह करीब डेढ़ वर्ष रह चुकी हैं। अभी तक वह योग पर 18 पुस्तकें लिख चुकी हैं। सबसे पहली पुस्तक उन्होंने 11 वर्ष की उम्र में लिखी थी। अन्तिम पुस्तक योगा एण्ड माइण्डुलनेस का विमोचन उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू ने किया था। इन पुस्तकों को 24 राज्यों के राज्यपाल सम्मानित कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि एक तेज पत्ता रात में पानी में भिगोकर सुबह उसका पानी पीने मात्र से मधुमेह जैसी खतरनाक बीमारी को पूरी तरह नियंत्रित किया जा सकता है। प्रत्येक व्यक्ति को हर आधे घंटे में आधा ग्लास पानी जरूर पीना चाहिए। साथ ही सूर्योदय के बाद और सूर्यास्त से पूर्व ही ऑयली और जंक फूड का सेवन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com