Sunday , August 25 2019

तो दक्षिण एशिया में भारत की आर्थिक प्रगति सबसे बेहतर!

यूएन वर्ल्ड इकॉनामिक्स सिचुएशन एंड प्रॉस्पेक्ट रिपोर्ट-2019 जारी

नई दिल्ली : संयुक्त राष्ट्र की वर्ल्ड इकॉनामिक्स सिचुएशन एंड प्रॉस्पेक्ट रिपोर्ट-2019 में भारत की आर्थिक प्रगति को दक्षिण एशिया में सबसे बेहतर बताया है। रिपोर्ट में कहा गया कि भारतीय अर्थव्यवस्था के 2019 में और बाद में 2020 में क्रमशः 7.6 और 7.4 प्रतिशत तक विस्तार की उम्मीद है। भारतीय अर्थव्यवस्था में मजबूत निजी खपत द्वारा वृद्धि जारी रहेगी। यूएन प्रवक्ता ने कहा कि दक्षिण एशिया के लिए क्षेत्रीय दृष्टिकोण मध्यम अनुकूल है। क्षेत्रीय जीडीपी में 5.4 प्रतिशत तक विस्तार होने की उम्मीद है। 2018 में 5.6 प्रतिशत के अनुमानित विस्तार के बाद 2019 और 2020 में क्रमश: 5.4 प्रतिशत और 5.9 प्रतिशत रहने का अनुमान है। इसी क्रम में बांग्लादेश की अर्थव्यवस्था 7.0 फीसदी से बढ़ेगी, जिसके लिए निश्चित निवेश, जोरदार निजी खपत और समायोजित मौद्रिक नीति जिम्मेदार है।

ईरान की अर्थव्यवस्था के हालात और खराब होने के संकेत है, जिसके लिए संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा व्यापार, निवेश और वित्तीय प्रतिबंध और संरचनात्मक घरेलू कमजोरियां जैसे कारण प्रमुख हैं। पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पहले की तरह ही 4.0 फीसदी से कम ही रहेगी। पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था कई तरह की मुश्किलों का सामना कर रही हैं, जिसमें राजकोषीय और चालू खाते की कमी, देश के अंतरराष्ट्रीय मुद्रा भंडार में कमी, घरेलू मुद्रा पर दबाव जैसे प्रमुख रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com